अफजल गुरु नहीं, रोहित वेमुला मेरा आदर्श है: कन्हैया

जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने आज शुक्रवार दोपहर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर फिर मोदी सरकार पर हमला किया। देशद्रोह के आरोपी कन्हैया जेल से बाहर आने के बाद दूसरी बार लोगों से मुखातिब होते हुए कहा कि जेएनयू को बदनाम करने की साजिश रची गई। कन्हैया ने कहा कि मेरा आदर्श अफजल गुरु नहीं, बल्कि रोहित वेमुला है। जेएनयू लोकतंत्र के साथ खड़ा होने वाला एतिहासिक संस्थान है। जेएनयू से पढ़ने वाला कभी देशद्रोही नहीं हो सकता।

अफजल गुरु पर पूछे गए सवाल के जवाब में कन्हैया ने कहा कि अफजल गुरु इस देश का नागरिक था। वह अखंड भारत के हिस्से जम्मू-कश्मीर का निवासी था। उसे भारतीय कानून के मुताबिक सजा दी गई थी। मेरे लिए अफजल गुरु आइकन नहीं है, रोहित वेमुला है। कन्हैया ने कहा कि तुम कितने रोहित मारोगे, घर घर रोहित निकलेगा।

अफजल गुरु नहीं, रोहित वेमुला मेरा आदर्श है: कन्हैया

जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने आज शुक्रवार दोपहर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर फिर मोदी सरकार पर हमला किया। कन्हैया ने कहा कि मेरा आदर्श अफजल गुरु नहीं, बल्कि रोहित वेमुला है।